आरक्षण पर सुप्रीम कोर्ट का लेटेस्ट जजमेंट आ चुका हैं ख़ासतौर पर यह जजमेंट विद्यार्थियों के लिए हैं और इसमें कवर किया गया है SC, ST व OBC वर्ग  के विद्यार्थियों को चलो पढ़ते हैं इस जजमेंट में क्या बात कही गई हैं |

इंडिया के अन्दर कुछ राज्य ऐसे है जिसमे किसी व्यक्ति को नौकरी देने का सिस्टम बहुत अलग हैं | जिसे कहते है हॉरिजॉन्टल सिस्टम | जैसे की किसी नौकरी में SC के लिए 10 सीटें हैं, ST के लिए 10 सीटें हैं व OBC के लिए 25  सीटें हैं और जनरल के लिए 75 सीटें हैं | अब SC, ST व OBC में से कोई भी 1 कैंडिडेट एग्जाम क्लियर करता हैं और उसकी कटऑफ SC से ज़्यादा जाती हैं, ST से ज़्यादा जाती हैं या फिर OBC से ज़्यादा जाती हैं मतलब की उनके मार्क्स इतने आये हैं कि वो जनरल वाले की भी सीट कवर कर सकते हैं तो भी राज्यों के अन्दर उस कैंडिडेट को SC की 10 सीटों, ST की 10 सीटों या फिर OBC की 25  सीटों में से ही सीट मिलेगी | चाहे वो कैंडिडेट टोपर ही क्यों न हो ऐसा सिस्टम था हमारे इंडिया के कुछ राज्यों के अन्दर |

Must Read:- भारत के 15 अजीब कानून

इस सबको देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि ये सिस्टम बहुत गलत हैं और अब ये हॉरिजॉन्टल सिस्टम आप नहीं चलायेंगे अब आप चलायेंगे वर्टीकल सिस्टम | जोकि योग्यता के अनुसार होगा इससे होगा कि कैंडिडेट की योग्यता के अनुसार उसे बिना रिजर्वेशन के सीट मिल जाएगी चाहे वो SC वर्ग का हो, ST वर्ग का हो या OBC वर्ग का हो |

ये जजमेंट दिया गया है सौरव यादव Vs स्टेट ऑफ़ U. P.

 

उम्मीद करता हूँ कि इस पोस्ट को पढ़कर आपको सुप्रीम कोर्ट का लेटेस्ट जजमेंट के बारे में पता चल गया होगा |अगर आपको ये पोस्ट पसन्द आए तो आप इसे शेयर ज़रूर करें जिससे बाकि लोग भी इसके बारे में जान सकें |